Jharkhand Pura Bihar

कोरोना के चक्कर में फंस गए लालू; इधर 200 से अधिक पुलिस वाले पॉजिटिव

पटना : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद कोरोना के चक्कर में फंस गए हैं। अब वह अपने घर नहीं आ सकेंगे। दिल्ली एम्स से वह दिल्ली में ही अपनी बेटी मीसा भारती के घर जाने वाले थे, लेकिन अब उन्हें एम्स में ही रहना होगा। दरअसल, कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर झारखंड बार काउंसिल ने अगले सात दिनों तक कोर्ट में सभी तरह के काम बंद रखने का फैसला लिया है। बार काउंसिल के इस फैसले के बाद कानूनी प्रक्रिया थम गई है। लालू के वकील प्रभात कुमार के अनुसार अब 26 अप्रैल को राजद सुप्रीमो की रिहाई के लिए बेल बांड भरा जाएगा। बता दें दो दिन पहले ही लालू को चारा घोटाले में जमानत मिली है। झारखंड हाईकोर्ट ने उन्हें सशर्त जमानत दी है। दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में वह सजा काट रहे थे।

इन शर्तों पर लालू को मिली है जमानत
राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले में साढ़े तीन साल बाद जमानत मिल गई है। झारखंड हाईकोर्ट ने लालू को सशर्त जमानत दी है। जस्टिस अपरेश कुमार सिंह ने लालू को कहा है कि एक लाख के निजी मुचलके, 10 लाख जुर्माना जमा करेंगे। साथ ही लालू को अपना पासपोर्ट जमा करना होगा। कोर्ट की अनुमति के बिना वे विदेश नहीं जा सकेंगे। कोर्ट ने यह भी निर्देश दिया है कि वे अपना मोबाइल नंबर, पता नहीं बदलेंगे। बता दें चारा घोटाले के दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में लालू को नियमित जमानत मिली है। उन्होंने कोर्ट से अपील की थी उनके गिरते स्वास्थ्य और आधी सजा पूरी करने के आधार पर उन्हें बेल दिया जाएगा। लालू के छोटे बेटे और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपने पिता के जमानत की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि पिता जी को जमानत मिल चुकी है। फिलहाल वह दिल्ली एम्स में भर्ती है। उनकी किडनी में काफी ज्यादा संक्रमण है और सांस लेने में तकलीफ हो रही है, इसलिए उनका इलाज अभी एम्स में ही चलेगा।

दुमका कोषागार से अवैध निकासी का क्या है मामला
बिहार और झारखंड जब अलग नहीं हुआ था। उस दौरान मुख्यमंत्री लालू प्रसाद के कार्यकाल में दुमका कोषागार से 3.76 करोड़ रुपए की अवैध निकासी हुई थी। मामले में सीबीआई ने केस दर्ज किया था और लालू समेत 31 लोगों को आरोपी बनाया था। कोर्ट ट्रायल के अनुसार लालू पर 1995 के दिसंबर से 1996 के जनवरी तक दुमका कोषागार से फर्जी वाउचर के माध्यम से 1.76 करोड़ रुपए की निकासी का आरोपी सही पाया गया था। यह अवैध निकासी जानवरों के चारा, कृषि उपकरण, दवाओं की खरीद के नाम पर हुई थी।

बेटी रोहिणी ने ऐसे जताई खुशी
लालू की जमानत मिलने की खबर के साथ उनके परिवार के साथ समर्थकों में काफी खुशी दिखी। सोशल मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म पर लालू समर्थकों ने अपने-अपने अंदाज में लालू के जमानत की खुशी जताई और विरोधियों पर तंज भी कसा। लालू की बेटी रोहिणी आचार्या ने भी ट्वीट कर खुशी जताई और लिखा- देखो-देखो शेर आया-शेर आया। जहरीली परवरिश वालों का मुंह काला हुआ। इसके बाद उन्होंने लिखा- अन्यायी कब तक अन्याय करेगा… मसीहा को कब तक कैद रखेगा। आया-आया देखो कौन? तानाशाह सत्ता से वो लड़कर… गरीबों का मसीहा आया… इस माही का लाल जो आया।

कोरोना की जद में पुलिस वाले
बिहार में पुलिस वाले कोरोना की जद में बुरी तरह फंस गए हैं। अब तक 200 से अधिक पुलिस वाले पॉजिटिव हो चुके हैं। जबकि कई की जान भी जा चुकी है। बिहार पुलिस मुख्यालय के अनुसार अब तक 210 पुलिसकर्मी संक्रमित हुए हैं। इसको लेकर डीजी टीम ने एक बैठक बुलाई है। इसमें एडीजी पुलिस मुख्यालय, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर, आईजी पुलिस मुख्यालय समेत कई वरीय अधिकारी शामिल हुए। इस बैठक में कोरोना को लेकर पुलिस अधिकारियों और पदाधिकारियों को कई निर्देश दिए गए। सभी थानेदारों को निर्देश दिया गया कि थाने में किसी के भी आने से पहले थर्मल स्क्रीनिंग कराएं। कोशिश करें कि बेहद कम लोग ही पुलिस थाने में आएं।

Related posts

Covid-19 : खगड़िया भी पहुंचा कोरोना, एक साथ मिले 4 मरीज, सूबे में 569 संक्रमित

News Desk

डीएलएड में इस बार 29200 सीटें, 10 अगस्त को परीक्षा, बिहार पुलिस को आज से आवेदन

News Desk

लालू की जमानत पर सीबीआई सख्त, विरोध में अब सुप्रीम कोर्ट जाएगी

News Desk

Leave a Comment