Pura Bihar

एमएलसी तनवीर अख्तर का कोरोना से निधन; सासाराम में पुलिस पर बरसाईं गोलियां, सारण में लॉकडाउन में ऑर्केस्ट्रा

पटना : कोरोना से एक और राजनेता की मौत हो गई है। जदयू विधान पार्षद (एमएलसी) तनवीर अख्तर का कोरोना से निधन हो गया है। वह आईजीआईएमएस में भर्ती थे। शनिवार की सुबह तनवीर ने दम तोड़ दिया। यह जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के भी प्रदेश प्रभारी थे। विधान पार्षद का इनका कार्यकाल जुलाई 2022 तक था। इनके निधन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शोक जताया और कहा कि तनवीर एक कुशल राजनेता थे। उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।

युवक की हत्या से आक्रोशित लोगों ने पुलिस पर चलाईं गोलियां
सासाराम जिले के बिक्रमगंज अनुमंडल अंतर्गत बिक्रमगंज में आपसी विवाद में युवक की हत्या कर दी गई। इस घटना से आक्रोशित लोगों ने बिक्रमगंज थाना चौक को जाम किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आक्रोशितों को सड़क जाम हटाने को समझाया तो लोगों ने पुलिस वालों पर ही हमला कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस बल पर गोलियां भी चलाईं। इसमें दो पुलिसकर्मी घायल हो गए। मृत युवक की पहचान राशिद आलम के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि खेलकूद के विवाद में राशिद की हत्या की गई है। पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार भी किया है। इसके बावजूद पीड़ित परिजनों और ग्रामीणों ने सड़क जाम किया और पुलिस वालों पर फायरिंग की।

रोहतास में दुकानदारों ने पुलिस पर बरसाए पत्थर
रोहतास में सब्जी मंडी को बाजार से हटाकर जगजीवन स्टेडियम में शिफ्ट किए जाने को लेकर दुकानदारों ने पुलिस वालों पर हमला कर दिया। दुकानदारों ने पुलिस कर्मियों पर पत्थर बरसाए, जिसमें दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। इस दौरान करगहर बाजार रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। सब्जी दुकानदारों के समर्थन में फुटपाथी दुकानदार भी आ गए और पुलिस का जमकर विरोध किया। पुलिस ने एक उपद्रवी को गिरफ्तार किया है। उक्त जगह पर पुलिस बलों की संख्या बढ़ा दी गई। दरअसल, एक दिन पहले ही थानाध्यक्ष सुशांत कुमार मंडल ने माइकिंग कर दुकानदारों को बताया था कि सब्जी मंडी को स्टेडियम में शिफ्ट किया जा रहा है। बाजार में सब्जी नहीं बेचेंगे, लेकिन दुकानदारों ने बाजार में ही मंडी लगा दी। इस पर ही दुकानदारों और पुलिस में विवाद हुआ।

लॉकडाउन में श्राद्ध में ऑर्केस्ट्रा पर बंद कराने गई पुलिस पर हमला
सारण में लॉकडाउन में भी श्राद्ध कर्म में ऑर्केस्ट्रा का आयोजन हो रहा है। इतना ही नहीं जब पुलिस उक्त कार्यक्रम को बंद कराने पहुंची तो गांव वालों ने पुलिस वालों पर ही हमला कर दिया। घटना अमनौर थाना क्षेत्र अंतर्गत लखना यादव टोले की है। यहां ऑर्केस्ट्रा बंद कराने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने लाठी-डंडे और ईंट-पत्थर से हमला कर दिया। इसमें थानाध्यक्ष समेत चार पुलिसकर्मी गंभीर रूप घायल हो गए। जबकि छह पुलिसकर्मी मामूली रूप से चोटिल हुए हैं। गंभीर रूप से घायलों में थनाध्यक्ष सुजीत कुमार, सैप जवान आरएन सिंह, होमगार्ड जवान राजकिशोर शर्मा और सुदर्शन सिंह शामिल हैं। घायलों का पीएचसी में इलाज हुआ।

ऑर्केस्ट्रा में सोशल डिस्टेंसिंग नहीं, किसी ने मास्क भी नहीं पहना था
लखना यादव टोले में सकल राय के श्राद्ध कर्म में ऑर्केस्ट्रा हुआ था। इसमें सैकड़ों लोगों की भीड़ थी। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गईं। वहां मौजूद कोई भी आदमी मास्क नहीं पहना था। गांव के कुछ लोगों ने डीएम को उक्त कार्यक्रम की सूचना दी। इसके बाद डीएम ने सीओ सुशील कुमार को संज्ञान लेने के लिए कहा। सीओ ने थानाध्यक्ष और पुलिस बल को लेकर उक्त जगह पहुंचे और आयोजकों को ऑर्केस्ट्रा बंद कराने को कहा। इस पर आयोजक भड़क गए और पुलिस से उलझ गए। फिर पुलिस वालों पर हमला कर दिया। पुलिस पर हमले की सूचना पर मढ़ौरा डीएपी इंद्रदेव बैठा भेल्दी, तरैयां, मकेर, परसा पुलिस मौके पर पहुंची और हालात पर काबू पाया। मामले में पांच लोगों की गिरफ्तारी भी की गई। गिरफ्तारियों में अवधेश राय, मशरक निवासी मंगेश पंडित, रतन पंडित, बीरेंद्र पंडित और रंजन पंडित शामिल हैं।

Related posts

छपरा में 9.30 लाख की लूट, गोपालगंज में किन्नरों से जान बचाकर भागे अधिकारी

News Desk

कोरोना से बचाने वाले लॉकेट के नाम पर लूटे जा रहे भोले-भाले लोग

News Desk

Covid-19 : बिहार में कोरोना से 35वीं मौत, बच्चे को जन्म देने के 2 दिन बाद महिला ने तोड़ा दम, 109 नए मरीज मिले

News Desk

Leave a Comment