Bhagalpur

डॉक्टर बना कसाई: महिला की डिलीवरी कराने में नवजात का गला काटा, दोनों की मौत

पटना : खगड़िया जिले में एक महिला की डिलीवरी कराने के दौरान डॉक्टर ने नवजात का गला काट दिया। इससे बच्चे और प्रसूता दोनों की मौत हो गई। घटना महेशखूंट प्रखंड की एक निजी क्लीनिक की है। एनएच-107 अंतर्गत सहरसा रोड पर टाटा इमरजेंसी नर्सिंग होम में महदीपुर परसराहा निवासी अमित कुमार अपनी पत्नी की डिलीवरी कराने आए थे। 24 वर्षीय चांदनी देवी को मंगलवार की दोपहर 3 बजे भर्ती कराया गया था। ऑपरेशन से पहले डॉक्टर ने परिजनों से एक लाख रुपए लिया और ऑपरेशन किया। ऑपरेशन के दौरान हादसा होने के बाद डॉक्टर ने चांदनी देवी को बेगूसराय रेफर कर दिया, लेकिन बेगूसराय ले जाने के दौरान मानसी में उसकी मौत हो गई।

परिजनों ने एनएच किया जाम
अवैध नर्सिंग होम की घटना से आक्रोशित परिजनों ने एनएच-107 को दो घंटे तक जाम रखा। पुलिस द्वारा आरोपी डॉक्टर पर कार्रवाई के आश्वासन के बाद परिजन माने और सड़क से हटे। बता दें जिले में अवैध नर्सिंग होम में आए दिन इस तरह की घटनाएं हो रहीं हैं। इसके बाद सिविल सर्जन द्वारा नर्सिंग होम संचालकों पर कार्रवाई नहीं की जा रही है। परिजनों ने कहा कि सदर अस्पताल की स्थिति ठीक नहीं होने के कारण मजबूरी में उन्हें निजी नर्सिंग होम में जाना पड़ता है।

Related posts

हमें क्वारेंटाइन सेंटर भेज दीजिए, बहुत भूखे हैं वहां खाना तो मिलेगा!

News Desk

Covid-19 : नौ जिलों में मिले मरीज, बिहार में 1442 लोग संक्रमित

News Desk

बिहार में 39 अधिकारियों का तबादला, कई SDO भी बदले, पूरी सूची देखें

News Desk

Leave a Comment